मन को एकाग्र और शांत कैसे करे

जब भी हम कोई लक्ष्य बनाते है या पढाई करना चाहते है। इसके अतिरिक्त अन्य किसी कार्य में सफलता प्राप्त करना चाहते है। तो उसमे सबसे अधिक महत्त्वपूर्ण है। मन को एकाग्र करना। यदि हम अपने मन को एकाग्र नहीं कर पा रहे है। तो किसी भी लक्ष्य को हासिल नहीं कर सकते है। इसलिए इस लेख में मन को एकाग्र कैसे करे इसपे Tips Share करुगा। यहाँ पे दी गयी जानकारी (Tips ) आपके लिए उपयोगी साबित होगी।

मन को एकाग्र कैसे करे

मन का विचलित होने के कई कारण हो सकते है। जैसे आप किसी काम को कर रहे है। तो उससे ध्यान हट रहा है। या आप पढाई कर रहे है तो आपके मन में दुसरे विचार जाग्रत हो रहे है। ऐसा होना स्वाभाविक है। क्युकी विज्ञानं के अनुसार करीब 70,000 विचार रोज आते है। जिसमे से 70 फ़ीसदी नकारात्मक होते है। लेकिन हमको ऐसा करना है। जिससे हमारे मन में विचार काम आये और हम अपना मन एकाग्र कर पाए। हम किसी काम से विचलित न हो।

हमारे दिमाग में बहुत से गलत विचार भी आते है। जिससे कई बार स्वप्नदोष भी हो जाता है। ये हमारे दिमाग के लिए सबसे अधिक नुकसान दायक है। इससे भी अधिक हानिकारक है।

हस्तमैथुन करना। यदि कोई भी व्यक्ति हस्तमैथुन करता है। तो वो कभी भी मन को एकाग्र नहीं कर पायेगा। क्युकी उसके मन में हमेशा गलत विचार आते रहेंगे। तो सबसे पहले आपको ध्यान रखना है। हस्तमैथुन कभी न करे। यहाँ पे जो tips दे रहा हूँ। उनसे आपका मन एकाग्र होगा। स्वप्नदोष और हस्तमैथुन जैसी हानिकारक आदतों से भी छुटकारा मिलेगा।

1.काम पे Focus करे।

सबसे अधिक आवश्यक है। काम करने का एक लक्ष्य बनाना चाहिए और दिमाग में उसके लिए प्रेम होना चाहिए। काम करते समय पूरा ध्यान काम पे रखे। अगर आपका पूरा ध्यान काम पे नहीं जा रहा है। तो थोड़ा तेज काम करना चाहिए। लेकिन आपको काम करना चाहिए। यदि आप दिन भर खली रहते है कुछ भी नहीं करते है। तो आपका दिमाग तो भटकेगा ही।

2. अच्छे माहौल में रहे

एक अच्छे माहौल को चुने। जहा गलत लोग न हो गलत बाते न होती हो। किसी भी गंदे काम को करने की बाते न होती हो। ऐसी जगह चुने जहा लोग तो हो। लेकिन शांति बनी रहे।

3. Positive सोचे

कुछ भी सोचे तो सकारात्मक सोचे। ऐसा कभी भी कुछ न सोचे जिससे आपको चिंता दर या भय महसूस हो। इससे आप विचलित हो सकते है। और Negative Thinking सबसे ख़राब है क्युकी स्वामी विवेकानंद जी ने भी कहा है। जैसा आप सोचते है , वैसा आप बन जाते है।

4. नींद पूरी ले

मन को एकाग्र करने के लिए सबसे अधिक महत्त्वपूर्ण है। शांति बनाये रखना जिसके लिए आवश्यक है नींद पूरी करना। अगर आपकी नींद पूरी नहीं होगी तो काम में मन नहीं लगेगा। जिससे आपका मन बार बार विचलित होगा।

5. आकर्षण से बचे

मन को एकाग्र करने में इसकी अपनी एक अहम् भूमिका है। आपको विपरीत लिंग में व्यक्ति से बचना चाहिए। उसके बारे में आपको अपने दिमाग में बिलकुल भी गलत विचार आने नहीं देना है। उसके इधर अधिक देखे न। यदि आपके मन में उसके लिए कोई गलत विचार आ रहा है। तो तुरंत कुछ और सोचने लगाना चाहिए या कुछ और करने लगना चाहिए।

6. Mindfulness का अभ्यास करे

mindfulness करना बहुत अधिक जरुरी है। क्युकी जब हम Mindfulness करते हैं। तो हमारे दिमाग के विचार भूतकाल और भविष्य की कल्पना करने की बजाय वर्त्तमान पे focus होता है। इससे दिमाग में फालतू उठने वाले विचार आना बहुत काम हो जाते है। Mindfulness करने के बहुत सारे फायदे है।

7. भगवान का ध्यान करे

भगवान का ध्यान करने से शांति मिलती है। जिससे दिमाग विचलित नहीं होता है। आपको रोज सुबह पूजा करनी चाहिए। सबसे अधिक आपके लिए आवश्यक है गायत्री मंत्र का जाप करना। रोज सुबह बैठ कर काम से काम 11 बार गायत्री मंत्र का जाप करे
ॐ भूर्भुवा स्व तत्स वितुर्ना वणेरीयम भर्गो देवस्य धीमहि धियो योन: प्रचोदयात

Leave a Comment